Member Login

fb login Forgot Password ?

Not a member yet? Sign Up!

अमेरिका ‘1000' ओलंपिक स्वर्णाें के एवरेस्ट पर

रियो डि जेनेरो । रियो ओलंपिक की पदक तालिका में शीर्ष पर चल रही इन खेलों की ‘सुपर पावर’अमेरिका ने रियो में महिलाओं की तैराकी स्पर्धा के चार गुणा 100 मीटर मेडले रिले का स्वर्ण पदक जीतने के साथ ही ओलंपिक खेलों में अपने 1000 स्वर्ण पदक पूरे करने की उपलबिध भी दर्ज कर ली है।

वहीं अमेरिका के स्टार तैराक और ओलंपिक इतिहास के सबसे सफल खिलाड़ी बन गये माइकल फेल्प्स ने पुरूषों की चार गुणा 100 मीटर मेडले रिले स्पर्धा में स्वर्ण जीतने के साथ अपने देश अमेरिका के लिये ओलंपिक खेलों का 1001वां स्वर्ण जीतने की उपलबिध दर्ज कर ली।
ओलंपिक खेलों की महाशक्ति अमेरिका ने अपनी महिला टीम के रियो में चार गुणा 100 मीटर मेडले रिले में स्वर्ण जीतने के साथ अमेरिका को उसका ओलंपिक खेलों में 1000वां स्वर्ण पदक दिला दिया। कैथलीन बेकर; लिली ंिकग; डैन वोल्मर और सिमोन मैनुएल की टीम ने चिर प्रतिद्वंद्वी आस्ट्रेलिया को हराते हुये यह उपलबिध दर्ज की। यदि महिला टीम ऐसा नहीं कर पातीं तो यह 1000 वां स्वर्ण दिलाने की उपलबिध पुरूष टीम के नाम होती।
अमेरिकी ओलंपिक समिति)यूएसओसी) के प्रमुख स्काट बलैकमम ने एक बयान जारी कर कहा एक हजार स्वर्ण पदक जीतना हमारे लिये एक ऐतिहासिक उपलबिध है और यह बेहतरीन खेल संस्कृति से तैयार की गई टीम अमेरिका की बदौलत संभव हुआ है।
उन्होंने बताया कि अमेरिका के कुल 1000 स्वर्ण पदकों में ट्रैक एंड फील्ड स्पर्धाओं से 323 स्वर्ण और तैराकी से 246 स्वर्ण शामिल हैं। अमेरिकी टीम इससे पहले रियो ओलंपिक में 977 स्वर्ण पदकों के साथ उतरी थी।

रियो की लोकप्रियतो को मिल रही ‘पोकीमौन गो’से टक्कर रियो डि जेनेरो )वार्ता) दुनियाभर में अचानक से लोगों के जुनून का सबब बन गये ‘पोकीमौन गो’इंटरनेट गेम इन दिनों बराजील की मेजबानी में हो रहे ओलंपिक खेलों की लोकप्रियता को कड़ी टक्कर दे रहा है और खासतौर पर इस खेल ने युवाओं के पसंदीदा बीच वॉलीबॉल; फुटबाल; टेनिस; डिस्कस थ्रो जैसे खेलों से भी दूर कर दिया है।
बराजील में भी इन दिनों यही नजारा है जहां एक तरफ देश की मेजबानी में सबसे बड़ा खेल आयोजन हो रहा है तो दूसरी ओर यहां के युवाओं का ध्यान पूरी तरह से पोेकीमौन को पकड़ने पर लगा हुआ है। मेजबान शहर रियो डि जेनेरो स्थित पार्क में युवाओं को हाथों में स्मार्ट फोन लिये ‘पोकीमौन’को पकड़ते देखने का नजारा आम हो चला है।
देश के युवा इस खेल को लेकर सबसे अधिक जुनूनी हो गये हैं। ंिकवटा डा बोआ विस्ता पार्क में आये एक छात्र लॉरडेज ड्रुमंड ने कहा मैं स्वीडन के साथ बराजील के फुटबाल मैच को देखने के लिये गया था लेकिन जब पोकीमौन शुरू हो गया तो मेरी दिलचस्पी मैच में नहीं रही।
जापान के निनटेंडों कंपनी द्वारा बनाया गया यह गेम एप जीपीएस से चलता है जिसमें कुछ एनिमेटिड चरित्रों को कैमरा फोन की मदद से ढूंढना होता है। इस गेम एप के बाद से दुनियाभर में अचानक से इसे लेकर जुनून पैदा हो गया है। एक अनुमान के मुताबिक बराजील में करीब 20 लाख लोग इस खेल से जुड़ गये हैं।

सम्बंधित खबरॆ
News
खेल

पैरा साइक्लिस्ट आदित्य मेहता से एयरपोर्ट पर बदसलूकी

बैंगलूर। एशियन पैरालिंपिक्स में 2 सिल्वर मेडल जीतने वाले पैरा साइक्लिस्ट आदित्य मेहता को बेंगलूर के कैंपेगौड़ा इंटरनैशनल एयरपोर्ट पर बदसलूकी का सामना करना पड़ा। जानकारी के अनुसार उन्हें मंगलवार…

और पढ़े

Write Your Comment
 
 
http://www.lnstarnews.com/site_images/captcha/1502904612.6.jpg refresh
Facebook twitter google rss pinterest ln star news