Member Login

fb login Forgot Password ?

Not a member yet? Sign Up!

मर्चेट को आस्ट्रेलिया दौरे पर ले जाना चाहते थे फ्राय

नई दिल्ली। भारत जिस वक्त इंग्लैंड का गुलाम था, उस वक्त यदि कोई दिग्गज किसी भारतीय खिलाड़ी को इंग्लैंड क्रिकेट टीम में शामिल करने की बात कहे तो इससे उस खिलाड़ी की काबिलियत का पता चलता है। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान सीबी फ्राय ने 1936 में भारतीय क्रिकेटर विजय मर्चेंट के बारे में कहा था कि इन्हें सफेद रंग कर आॅस्ट्रेलिया दौरे के लिए इंग्लैंड की टीम में ओपनर के रूप में शामिल कर लो। मर्चेंट अपने 18 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर में मात्र 10 टेस्ट मैच खेल पाए, जिसमें उन्होंने 47.72 की औसत से रन बनाए। उन्होंने प्रथम श्रेणी मैचों में अपने जलवे से पूरी दुनिया में सनसनी फैलाई। प्रथम श्रेणी मैचों में उन्होंने 71.64 के शानदार औसत से 13 हजार से ज्यादा रन बनाए, लेकिन रणजी ट्रॉफी में तो हैरतअंगेज ढंग से उनका रन औसत 98.75 रहा। मर्चेंट ने भारतीय टीम के साथ 10 वर्षों में इंग्लैंड के दो दौरे किए और इस दौरान प्रथम श्रेणी मैचों में इंग्लिश गेंदबाजों की जमकर पिटाई करते हुए कुल 4000 से ज्यादा रन बनाए। कंधे की चोट की वजह से इस जबर्दस्त खिलाड़ी को क्रिकेट से संन्यास लेना पड़ा। उन्होंने मध्यम तेज गेंदबाजी से फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 65 विकेट भी झटके। क्रिकेट में सर डॉन ब्रैडमैन को सबसे महान बल्लेबाज माना जाता है। फर्स्ट क्लास क्रिकेट के लिहाज से देखा जाए तो मुंबई के विजय मर्चेंट में काफी कुछ उनके करीब पहुंचते नजर आते हैं। मर्चेंट का 76 वर्ष की उम्र में 27 अक्टूबर 1987 को निधन हुआ था।

सम्बंधित खबरॆ
New Delhi News
खेल

अमेरिका में नयी शुरूआत होगी: कुंबले

भारतीय कोच अनिल कुंबले यहां सेंट्रल ब्रोवार्ड रिजनल पार्क स्टेडियम की सुविधाओं से काफी प्रभावित हैं, जो आईसीसी द्वारा प्रमाणित एकमात्र वनडे क्रिकेट स्टेडियम है। उन्होंने कहा कि वेस्टइंडीज के…

और पढ़े

Write Your Comment
 
 
http://www.lnstarnews.com/site_images/captcha/1501261340.79.jpg refresh
Facebook twitter google rss pinterest ln star news