Member Login

fb login Forgot Password ?

Not a member yet? Sign Up!

पीबीएल: मुबंई को हराकर सिंधु की टीम चेन्नई स्मैशर्स बनी चैंपियन

नई दिल्ली। तानोंगसाक सेनसोमबूनसुक के निणार्यक मैच में जबरदस्त प्रदर्शन की बदौलत चेन्नई स्मैशर्स ने मुंबई रॉकेट्स को शनिवार को 4-3 से पराजित कर प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) में चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लिया।
मुकाबला बेहद जबरदस्त रहा और विजेता का फैसला आखिरी मैच में जाकर हो पाया। चेन्नई ने पहले दोनों मैच जीत कर 3-0 की बढ़त बनाई लेकिन मुम्बई ने अगले दोनों मैच जीतकर 3-3 से बराबरी कर ली। दोनों ही टीमों ने अपने-अपने ट्रम्प मैच जीते। आखिरी मैच चेन्नई के तानोंगसाक सेनसोमबूनसुक और मुम्बई के अजय जयराम के बीच हुआ और तानोंगसाक ने पहला गेम हारने के बाद शानदार वापसी करते हुए 9-11, 11-7, 11-3 से जीत हासिल कर ली।
तानोंगसाक के मैच जीतते ही चेन्नई का खेमा खुशी से उछल पड़ा और ओलंपिक रजत विजेता पीवी सिंधु सहित चेन्नई के तमाम खिलाड़ियों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया। चेन्नई के खिलाड़ियों ने तानोंगसाक को कंधों पर उठा लिया जो उनकी जीत के हीरो बन गये।
विजेता टीम को पुरस्कार के रूप में मिले तीन करोड़ रुपए
विजेता चेन्नई टीम को तीन करोड़ रुपए की भारी भरकम पुरस्कार राशि मिली जबकि उपविजेता मुंबई को डेढ़ करोड़ रुपये से संतोष करना पड़ा। सेमीफइनलिस्ट टीमों को 75-75 लाख रुपये मिले।
पीवी सिंधु ने चेन्नई को 3-0 से दिलाई बढ़त
पहला मैच चेन्नई का ट्रम्प मैच था और क्रिस एडकॉक तथा गेब्रियल एडकॉक ने निपितफोन पी और नेदिज्दा जीबा को 11-9 ,11-6 से हराकर चेन्नई को 2-0 से आगे कर दिया। ओलंपिक रजत विजेता पीवी सिंधु ने अपना शानदार प्रदर्शन बरकरार रखते हुए सुंग जी ह्यून को 11-8 ,11-8 से हराकर चेन्नई को 3-0 से आगे कर दिया। मुम्बई ने वापसी करते हुए अपना ट्रम्प मैच जीत लिया। ली योंग देई और निपितफोन पी ने क्रिस एडकॉक और मैड्स कोल्डिंग को 12-10 ,11-6 से हराकर स्कोर 2-3 कर दिया। अगले मैच में एच एस प्रणय ने कमाल का खेल दिखाते हुए परुपल्ली कश्यप की चुनौती पर 11-4, 8-11, 11-8 से काबू पाकर मुम्बई को 3-3 की बराबरी पर ला दिया।
तानोंगसाक ने दिखाया कमाल
अब अपनी अपनी टीमों को विजेता बनाने का दारोमदार तानोंगसाक सेनसोमबूनसुक और अजय जयराम पर आ गया। जयराम ने पहला गेम 11-9 से जीत लिया जबकि तानोंगसाक ने दूसरा गेम 11-7 से जीतकर मुकाबले को निणार्यक गेम में पहुंचा दिया। तानोंगसाक ने निणार्यक गेम में जयराम की गलतियों का पूरा फायदा उठाते हुए 11-3 से जीत हासिल की और खिताब चेन्नई की झोली में डाल दिया।

सम्बंधित खबरॆ
New Delhi News
खेल

चार गुणा 400 मी स्वर्ण अमेरिका को

स्वर्ण रियो डि जेनेरो। लॉशान मेरिट ने एंकर लेग में जबरदस्त दौड़ लगाते हुये रियो ओलंपिक की आखिरी एथलेटिक्स स्पर्धा पुरुषों की चार गुणा 400 मीटर रिले का स्वर्ण पदक…

और पढ़े

Write Your Comment
 
 
http://www.lnstarnews.com/site_images/captcha/1502956748.13.jpg refresh
Facebook twitter google rss pinterest ln star news