Member Login

fb login Forgot Password ?

Not a member yet? Sign Up!

27 रन से विश्वरिकार्ड चूके कोहली

बेंगलौर। आईपीएल के एक संस्करण में 1000 के करीब रन बनाने के बाद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलौर के कप्तान और धुरंधर बल्लेबाज विराट कोहली ने कहा कि रिकॉर्ड बनते ही टूटने के लिये हैं और एक दिन उनका यह रिकार्ड भी कोई और बल्लेबाज तोड़ेगा। बेंगलुरु को रविवार को खेले गये आईपीएल-9 के फाइनल मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद के हाथों आठ रन के नजदीकी अंतर से शिकस्त का सामना करना पड़ा और उसके विजेता बनने के सपने एक बार फिर चकनाचूर हो गये। हालांकि हार के बाद बेंगलौर के कप्तान विराट ने कहा कि जिस तरह उनकी टीम खेली, उन्हें उस पर गर्व है।
मैच के बाद विराट ने कहा, जिस तरह टूर्नामेंट में हमारी टीम ने खेल दिखाया, उस पर हमें गर्व है। यह उपलब्धि बेंगलौरवासियों को समर्पित है। हम आज का मुकाबला हार गए लेकिन जनता का समर्थन हमें प्राप्त रहा। मैं निराश हूं कि मैच नहीं जीत सके। डेन ने मुझे कहा कि 200 रन बनाने के बावजूद हम हार गए लेकिन प्रशंसकों का समर्थन शानदार रहा। मैच में अपने और एबी डीविलियर्स के विकेट को अहम बताते हुये विराट ने कहा, मेरा और एबीडी का कम अंतराल में आउट होना बड़ा झटका रहा। अगर मैं और एबी टिके होते तो मुकाबला हमारे पक्ष में होता। मैं सनराइसर्ज को जीत की बधाई देना चाहता हूं। वह इस खिताब के प्रबल दावेदार हैं।
विराट को मोस्ट वैल्यूएबल प्लेयर आॅफ द टूर्नामेंट तथा टूर्नामेंट में सर्वाधिक छक्के मारने का अवॉर्ड सहित आॅरेंज कैप भी मिली। आॅरेंज कैप हासिल करने के बाद विराट ने कहा, यह अच्छा प्रोत्साहन है लेकिन हारने के कारण अच्छा महसूस नहीं कर रहा हूं। सनराइजर्स का गेंदबाजी आक्रमण शानदार है। मुझे पता था कि गेंद पर अच्छे से प्रहार कर रहा हूं और मुझे लगातार योगदान देना है। यह मेरी निजी उपलबिध है लेकिन अहम बात यह है कि हम फाइनल में पहुंचे।
यह पूछने पर कि 16 मैचों में 88.45 की औसत और 152.26 की स्ट्राइक रेट के साथ 973 रन बनाने का रिकॉर्ड टूटेगा तो विराट ने जवाब दिया, क्यों नहीं, रिकॉर्ड बनते ही टूटने के लिए हैं। चार शतक जड़ने के बारे में कोहली ने बताया कि इस मामले में वह खुद आश्चर्यचकित हैं। उन्होंने पारी की शुरुआत की शायद इसलिए कामयाब रहे। उन्होंने कहा कि तीसरे या चौथे क्रम के बल्लेबाज के लिए शतक बनाना आसान नहीं होता।
दिल्ली के 27 वर्षीय विराट ने साथ ही कहा कि उन्हें इन उपलबिधयों से ज्यादा खुशी टीम के बढ़ने पर होती है और चैंपियंस लीग को मिलाकर चौथा फाइनल हारने से वह बेहद निराश हैं। विराट ने आईपीएल के इस सत्र का समापन 973 रनों के साथ किया। वह आईपीएल ही नहीं दुनिया के किसी एक टूर्नामेंट के एक सत्र में 1000 रन पूरे करने वाला पहला बल्लेबाज बनने से मात्र 27 रनों से चूक गये।

सम्बंधित खबरॆ
News
खेल

पीबीएल: मुबंई को हराकर सिंधु की टीम चेन्नई स्मैशर्स बनी चैंपियन

नई दिल्ली। तानोंगसाक सेनसोमबूनसुक के निणार्यक मैच में जबरदस्त प्रदर्शन की बदौलत चेन्नई स्मैशर्स ने मुंबई रॉकेट्स को शनिवार को 4-3 से पराजित कर प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) में चैंपियन…

और पढ़े

Write Your Comment
 
 
http://www.lnstarnews.com/site_images/captcha/1502956760.47.jpg refresh
Facebook twitter google rss pinterest ln star news