Member Login

fb login Forgot Password ?

Not a member yet? Sign Up!

एक ने मारी कुर्सी को लात तो एक धीमे ओवररेट का दोषी विराट और गंभीर पर जुर्माना

  बैगलौर। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 9वें सीजन में सोमवार को कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के बीच खेले गए मैच के बाद दोनों टीम के कप्तानों गौतम गंभीर और विराट कोहली पर जुर्माना लगा है। कोहली पर धीमे ओवररेट के लिए तो गंभीर पर अनुशासनहीनता के लिए यह जुर्माना लगाया गया। गंभीर पर आईपीएल में आरसीबी पर मिली जीत के दौरान एक कुर्सी को लात मारने के लिए मैच फीस का 15 फीसदी जुर्माना लगाया गया है जबकि कोहली को धीमे ओवररेट के लिए 24 लाख रुपये जुर्माना भरना पड़ा।
कोहली अभी तक 36 लाख रुपये जुमार्ना भर चुके हैं। उन्हें धीमे ओवररेट के एक अन्य अपराध के लिए भी 12 लाख रुपये जुमार्ना भरना पड़ा था। आईपीएल की प्रेस रिलीज के मुताबिक, 'कोलकाता नाइट राइडर्स के गौतम गंभीर को आरसीबी के खिलाफ चिन्नास्वामी स्टेडियम पर मैच के दौरान आईपीएल की आचार संहिता का उल्लंघन करने के कारण मैच फीस का 15 फीसदी जुर्माना भरना पड़ेगा।' इसमें कहा गया, 'गंभीर ने क्रिकेट उपकरण या कपड़े, मैदान उपकरण या फिटिंग्स को नुकसान पहुंचाने संबंधी लेवल एक का अपराध स्वीकार कर लिया है। इसके लिए मैच रेफरी का फैसला अंतिम और सर्वमान्य है।'
टीवी रिप्ले में गंभीर को डगआउट में आक्रामक अंदाज में एक कुर्सी पर लात मारते दिखाया गया जब सूर्यकुमार यादव ने चौका लगाकर केकेआर को जीत दिलाई थी। कोहली के बारे में कहा गया, कोहली को धीमी ओवरगति के कारण जुर्माना भरना होगा। यह इस सीजन में उनका दूसरा अपराध है। कोहली पर 24 लाख रुपये और टीम के बाकी सदस्यों पर 6-6 लाख या मैच फीस का 25 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया है।


मैं हमेशा सर्वश्रेष्ठ रहूंगा : रोनाल्डो
गोलों के शतक से महज 7 गोल पीछे
मेड्रिड। स्पेन के फुटबॉल क्लब रियाल मैड्रिड के स्टार फॉरवर्ड पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने कहा है कि वह हमेशा एक सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर रहेंगे। रोनाल्डो अपने क्लब रियाल के लिए सबसे अधिक गोल करने वाले खिलाड़ी हैं और चैंपियंस लीग में 100 गोल करने से सिर्फ सात गोल दूर है।
रोनाल्डो ने मंगलवार को कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि फुटबॉल के इतिहास में मुझे हमेशा बेस्ट खिलाड़ी के रूप में याद किया जाएगा। चाहे लोग इसे माने या न माने लेकिन मेरा आंकड़ा इसकी गवाही देता है कि मैं हमेशा एक बेस्ट फुटबॉलर रहूंगा।
उन्होंने कहा कि फुटबॉल में मेरा करियर ऊपर-नीचे जरूर रहा है लेकिन एक बेस्ट फुटबॉलर पर इसका कोई असर नहीं पड़ता। तीन बार दुनिया के बेस्ट फुटबॉलर रह चुके रोनाल्डो ने कहा कि एक नौवजवान खिलाड़ी के रूप में उन्हें हमेशा खुद पर विश्वास रहा है।
31 वर्षीय रोनाल्डो ने कहा कि मुझे हमेशा से पता है कि मैं एक खास खिलाड़ी हूं। यहां तक कि जब मैंने खेलना शुरू किया था तभी मुझे महसूस हो गया था कि अभी नहीं तो बाद में मैं एक टॉप फुटबॉल खिलाड़ी बनूंगा। हालांकि मैंने यह अभी नहीं सोचा था कि इतनी जल्दी मैं इस उपलब्धि को हासिल करूंगा।
पुर्तगाल के रोनाल्डो ने कहा कि मैंने हमेशा कड़ी मेहनत की है। एक खिलाड़ी, व्यक्ति, और इंसान के रूप में मैंने अपने आप में काफी बदलाव किया है। मैंने हमेशा अपने काम का पूरा लुत्फ उठाया है। ईमानदारी से कहूं तो मैंने कभी किसी खिलाड़ी के जैसा बनने की कोशिश नहीं की। कई महान खिलाड़ी क्लब के लिए खेल चुके हैं लेकिन मैंने हमेशा अपने खेल पर ध्यान दिया है।
......................

द्रविड़ का तराशा हीरा दिखा रहा है जलवे
ऋषभ पंत का धमाल
सबसे तेज अर्द्धशतक पंत के नाम
बेस प्राईज 10 लाख बिके 2 करोड़ में
आईपीएल में फिफ्टी लगाने वाले दूसरे सबसे युवा
नईदिल्ली। राहुल द्रविड़ के दिल्ली डेयरडेविल्स के साथ जुड़ने का फायदा टीम को लगातार मिल रहा है। दिल्ली ने 7 में से 5 मैच जीत लिए हैं और पांचवीं जीत उन्हें उस टीम पर मिली जो इस बार टूनार्मेंट में सबसे आगे चल रही है।
दिल्ली की गुजरात लायंस के खिलाफ मिली इस जीत में 18 साल के एक युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत का योगदान रहा जिनका यह तीसरा आईपीएल मैच था। 4 महीने पहले तक ऋषभ की उम्र की तरह ही उनकी क्रिकेट जगत में पहचान कुछ खास नहीं थी। वह इसी साल फरवरी में सबकी नजर में आए जब अंडर-19 टीम इंडिया के कोच राहुल द्रविड़ ने उन्हें तराशा और अंडर-19 वर्ल्ड कप में ओपनिंग करने का मौका दिया।
उत्तराखंड के रुड़की शहर के इस प्रतिभाशाली क्रिकेटर ने द्रविड़ के दिए मौकों को पूरी तरह से भुनाया और लगातार रन बनाते हुए अपनी पहचान बना ली। बांग्लादेश में खेले गए टूनार्मेंट में नेपाल के खिलाफ सबसे तेज अर्धशतक लगाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया। फिर नामिबिया के खिलाफ शतक लगाकर टीम इंडिया को सेमीफाइनल में पहुंचा दिया।
सबसे दिलचस्प बात यह रही कि उनका यह शतक उसी दिन आया जब भारत में आईपीएल के लिए खिलाड़ियों की नीलामी लग रही थी। उन्होंने अपनी बोली लगने से पहले ही शानदार खेल दिखाया और शतक ठोंक दिया। इसका फायदा भी उन्हें खूब मिला क्योंकि नीलामी में उनका बेस प्राइस 10 लाख रुपये था और मांग बढ़ते-बढ़ते बिके पूरे 1 करोड़ 90 लाख रुपये में।
यह बेहतरीन बल्लेबाज पिछले साल अक्टूबर में दिल्ली की टीम से जुड़ गया और वहां भी उन्होंने कमाल कर दिखाया। अपनी दूसरे ही पारी में फिफ्टी लगा दी।
गुजरात लायंस के खिलाफ उन्हीं के घर में खेलते हुए ऋषभ पंत ने बेहद शानदार बल्लेबाजी की। उन्होंने अपनी पारी में 40 गेंदों में 9 चौके और 2 छक्के के साथ 69 रनों की पारी खेली। वह आईपीएल में फिफ्टी लगाने वाले दूसरे सबसे कम उम्र के बल्लेबाज भी बन गए हैं। उनसे पहले उनकी ही टीम के संजू सैमसन ने सबसे कम उम्र में अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया था।

सम्बंधित खबरॆ
खेल

ओलंपिक में भारत-सानिया-बोपन्ना क्वार्टर फायनल में, श्रीकांत ने जगाई उम्मीद

रियो डि जेनेरो। ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन के बावजूद कुछ खिलाड़ियों ने अब भी पदकों की उम्मीद बनाए रखी है। इन्हीं में से एक सानिया, बोपन्ना की…

और पढ़े

Write Your Comment
 
 
http://www.lnstarnews.com/site_images/captcha/1501261408.7.jpg refresh
Facebook twitter google rss pinterest ln star news