Member Login

fb login Forgot Password ?

Not a member yet? Sign Up!

2004 में पाक बल्लेबाजों के होश उड़ाने वाले बालाजी ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट से लिया संन्यास

चेन्नई। पूर्व भारतीय क्रिकेट लक्ष्मीपति बालाजी ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है, हालांकि वह इंडियन प्रीमियर लीग और तमिलनाडु प्रीमियर लीग में खेलने के साथ तमिलनाडु टीम के गेंदबाजी कोच की भूमिका को भी बरकरार रखेंगे। 34 वर्षीय बालाजी को वर्ष 2004 में पाकिस्तान दौरे पर उनके जबरदस्त प्रदर्शन के लिये याद किया जाता है। उन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास की घोषणा करते हुये कहा मुझे आगे बढ़ना है, मेरा परिवार है और मुझे उनके साथ समय बिताने का मौका मिलेगा। मैंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट को 16 वर्ष दिये हैं, लेकिन मैं आईपीएल और टीएनपीएल में खेलना जारी रखूगा। आक्रामक गेंदबाज बालाजी का अंतर्राष्ट्रीय करियर हालांकि काफी संक्षिप्त रहा और उन्होंने केवल आठ टेस्ट, 30 वनडे और पांच ट्वंटी 20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में ही भारत का प्रतिनिधित्व किया। उन्होंने करियर में 106 प्रथम श्रेणी मैचों में 12.14 के औसत से 1202 रन बनाये तथा 26.10 के औसत से 330 विकेट झटके हैं।
कभी नहीं भूल सकता इंजमाम को फेंकी गई वो बॉल
पाकिस्तानी दौरे पर मेजबान टीम के दिग्गजों को अपनी गेंदों से परेशान करने वाले बालाजी ने उस दौरे को याद करते हुए कहा, 'मैंने आउटस्विंगर डाली और इंजमाम उल हक उसे समझ नहीं सके। मैं उस पल को कभी नहीं भूल सकता क्योंकि हमने पहली बार पाकिस्तान में टेस्ट सीरीज जीती थी। हालांकि बालाजी का करियर अधिकतर समय चोटों से ही जूझता रहा और इस कारण वह काफी समय नेशनल टीम से बाहर रहे। उन्होंने पूर्व क्रिकेटरों को याद करते हुए कहा, अनिल कुंबले और जहीर खान ने मुझे मेरे करियर में काफी मदद की। जहीर बहुत अच्छे इंसान हैं और उन्होंने हमेशा मेरा हौसला बढ़ाया।'

सम्बंधित खबरॆ
खेल

मेरे पास समय नहीं : पेले

ब्रीसिलिया। दुनिया के महान फुटबालर पेले को अपने देश ब्राजील की मेजबानी में हो रहे ओलंपिक खेलों में ज्योति प्रज्ज्वलन करने के लिये आमंत्रित किया गया है लेकिन इस बेहद…

और पढ़े

Write Your Comment
 
 
http://www.lnstarnews.com/site_images/captcha/1498318401.61.jpg refresh
Facebook twitter google rss pinterest ln star news