Member Login

fb login Forgot Password ?

Not a member yet? Sign Up!

यूरो कप फुटबाल ‘चोटिल’ जर्मनी से बदला चुकाने उतरेगा फ्रांस

मार्सिले। खिताब की दो प्रबल दावेदार टीमें विश्व चैंपियन जर्मनी और मेजबान फ्रांस गुरुवार को जब यूरो कप के दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में आमने सामने होंगी तो उनका लक्ष्य किसी भी कीमत पर जीत हासिल कर फाइनल के लिए सीट पक्का करने का होगा। अपने अंतिम पड़ाव में पहुंच चुके टूर्नामेंट में तीन बार की चैंपियन जर्मनी के लिए प्रमुख खिलाड़ियों की चोट गंभीर समस्या बन गई है। लेकिन इसके बावजूद विश्व चैंपियन टीम अपनी बादशाहत को बनाए रखने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी। वहीं दूसरी तरफ फ्रांस की टीम घरेलू प्रशंसकों के अपार समर्थन की मदद से पिछले विश्वकप के क्वार्टरफाइनल में मिली हार का बदला लेने के इरादे से उतरेगी।
फ्रांस को जर्मनी के हाथों वर्ष 2014 के क्वार्टरफाइनल में 1-0 से हार का सामना करना पड़ा था। मेजबान टीम इसके साथ ही वर्ष 1982 और 1986 के विश्वकप सेमीफाइनल मुकाबलों में मिली हार का बदला लेने के इरादों के साथ मैदान में उतरेगी। वर्ष 1958 के बाद से फ्रांस की टीम जर्मनी को किसी बड़े टूर्नामेंट में हरा नहीं सकी है और गुरुवार को मेजबान खिलाड़ियों का इरादा इस सूखे को समाप्त कर इतिहास रचने का भी होगा।
वहीं सांसे रोक देने वाले क्वार्टरफाइनल में इटली की मजबूत टीम की चुनौती को ध्वस्त करने वाली जर्मनी के लिए अपने प्रमुख खिलाड़ियों की चोट चिंता का सबब बनी हुई है। पूरे टूर्नामेंट के दौरान हैमस्ट्रिंग की चोट से जूझ रहे टीम के स्टार स्ट्राइकर मारियो गोमेज के अलावा मिडफील्डर सामी खेदिरा भी अंतिम चार के महत्वपूर्ण मुकाबले से बाहर हो गए हैं। जबकि डिफेंडर मैट हमेल्स पिछले मुकाबले में मिले यलो कार्ड की वजह से इस मैच में नहीं खेल पाएंगे। इसके अलावा घुटने की चोट से जूझ रहे कप्तान बेस्टियन श्वेन्सटाइगर के लिए भी खेलना संदिग्ध बना हुआ है।
स्टार खिलाड़ियों से सुसज्जित दोनों टीमों का अब तक का सफर बेहद ही शानदार रहा है और इसमें कोई शक नहीं कि सेमीफाइनल मुकाबले में रोमांच की पराकाष्ठा देखने को मिलेगी। टूर्नामेंट में अब तक अपराजेय रही जर्मनी ने पिछले छह मैच तो वहीं फ्रांस ने पिछले नौ मैचों में हार का स्वाद नहीं चखा है।
अंतिम 16 में स्लोवाकिया को 3-0 से तथा क्वार्टरफाइनल में इटली को पेनल्टी शूटआउट में 6-5 से परास्त करने वाली जर्मनी के लिए सुकून देने वाली बात युवा खिलाड़ियों का भी गोल करना है। शूटआउट में जर्मनी के बड़े नामों के चूकने पर युवाओं ने टीम के लिए सेमीफाइनल की सीट पक्की कर दी। जर्मनी की तरफ से टोनी क्रूस, ड्रैक्सलर, हमेल्स, किमिच, बोआटेंग और हेक्टर ने गोल स्कोर किया।

सम्बंधित खबरॆ
News
खेल

ट्वीट का मिला करारा जबाव

नई दिल्ली। भारत द्वारा न्यूजीलैंड को इंदौर में हुए तीसरे टेस्ट मैच में 321 रनों से हराकर सीरीज पर 3-0 से कब्जा जमाने के बाद टीम इंडिया को बधाइयों का…

और पढ़े

Write Your Comment
 
 
http://www.lnstarnews.com/site_images/captcha/1501262124.34.jpg refresh
Facebook twitter google rss pinterest ln star news