Member Login

fb login Forgot Password ?

Not a member yet? Sign Up!

बॉल टैंपरिंग: विराट ही नहीं, ये प्लेयर भी 'फंसे'

नईदिल्ली। भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली बॉल टैम्परिंग को लेकर विवादों में आए। साउथ अफ्रीका के कप्तान फॉफ डु प्लेसिस को तो 100 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगा। यह हालांकि पहली बार नहीं है जब बॉल टैम्परिंग विवादों में आई हो।
वकार युनिस
पाकिस्तानी गेंदबाजों पर ऐसे आरोप लगते रहे हैं। इसमें वकार पर 1980 के दशक में बोतल के ढक्कन से गेंद खराब करने के आरोप भी शामिल हैं। वर्ष 2000 में पाकिस्तान के श्री लंका दौरे के दौरान वकार यूनिस पहले गेंदबाज बने जिन्हें टैम्परिंग के कारण सजा का सामना करना पड़ा। युनिस गेंद की सिलाई के साथ छेड़छाड़ करते देखे गए। उन पर मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना और एक मैच का बैन लगाया गया।
शोएब अख्तर
अख्तर पर आरोप लगा था कि उन्होंने किसी नुकीली चीज से गेंद पर कट लगाया है। आरोप सही पाया गया। और उन्हें कड़ी चेतावनी दी गई। यह मामला पाकिस्तान के 2002-03 के जिम्बाब्वे दौरे का है। अगले साल न्यू जीलैंड और श्री लंका के खिलाफ सीरीज में भी अख्तर गेंद के साथ छेड़छाड़ करते नजर आए। नतीजतन उन पर दो मैच का बैन और मैच फीस का 75 फीसदी जुर्माना लगाया गया। 2010 में इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में भी उन पर गेंद को जूते के खराब करने का आरोप लगा था।
सचिन तेंडुलकर
क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंडुलकर भी यह आरोप लगा था। मामला 2011 में भारत के साउथ अफ्रीका दौरे का है। मैच रेफरी माइक डेनिस ने तेंडुलकर पर गेंद से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया था। मैच रेफरी ने कहा कि सचिन गेंद की सिलाई के साथ छेड़छाड़ कर रहे हैं। सचिन ने इस पर सफाई दी थी कि वह सिर्फ गीली बॉल साफ कर रहे थे। रेफरी ने सचिन पर एक टेस्ट मैच का बैन लगाया था। बैन के खिलाफ बीसीसीआई ने अपील की थी और आईसीसी ने इसे निरस्त कर दिया था।
राहुल द्रविड़
भारतीय क्रिकेटर के 'भद्र पुरुष' राहुल द्रविड़ पर भी बॉल टैम्परिंग का आरोप लग चुका है। भारतीय टीम 2005 में जिम्बाब्वे का दौरा कर रही थी। द्रविड़ पर मैच फीस का 75 फीसदी जुर्माना लगा।
जॉन लेवर
इंग्लैंड टीम 1976-77 में भारत का दौरा कर रही थी। क्रिकेट इतिहास में इस घटना को 'वेसलीन कांड' के नाम से जाना जाता है। भारत के तत्कालीन कप्तान बिशन सिंह बेदी ने जॉन लेवर पर आरोप लगाया था कि वह गेंद पर वेसलीन लगा रहे हैं ताकि वह गेंद ज्यादा स्विंग हो। भारत को सीरीज में 1-3 से हार का सामना करना पड़ा। बॉल की जांच करने पर बेदी के आरोप सही पाए गए लेकिन इस मामले को चुपचाप दबा दिया गया। जॉन ने इसके बाद 13 टेस्ट मैच और खेले लेकिन कभी अपने भारत दौरे के प्रदर्शन को दोहरा नहीं पाए।
इंजमाम उल हक
पाकिस्तान के 2004 के इंग्लैंड दौरे पर अंपायर डेरल हेयर और बिली ड्रॉक्ट्रॉ ने गेंद में गड़बड़ी पाई। नतीजतन पाकिस्तान पर पांच रन का जुर्माना लगाया गया और गेंद बदल दी। पाकिस्तानी कप्तान इंजमाम उल हक ने ओवल के मैदान पर इसका विरोध किया। 20 मिनट बाद मैच इंग्लैंड के पक्ष में कर दिया गया। इंजमाम ने अपनी टीम का साथ दिया और इसके बाद हेयर को आईसीसी अंपायर पैनल से हटा दिया गया।

सम्बंधित खबरॆ
New Delhi News
खेल

जू. हॉकी: भारत ने जर्मनी को धोया

वेलेंशिया। भारतीय जूनियर पुरूष हॉकी टीम ने यहां चार राष्ट्रों के आमंत्रण टूर्नामेंट में अपने ओपंिनग मैच में 3-1 से पराजित कर विजयी आगाज किया। लेकिन महिला टीम को इंग्लैंड…

और पढ़े

Write Your Comment
 
 
http://www.lnstarnews.com/site_images/captcha/1502904710.64.jpg refresh
Facebook twitter google rss pinterest ln star news