मध्य प्रदेश राज्य

स्वामी श्री नारायणदेव तीर्थ जी महाराज की 25 वीं पुण्यतिथि मनाई

देवास। लोक कल्याण शक्तिपात साधन परम्परा के मूल स्थान नारायणकुटी सन्यास आश्रम देवास के ब्रह्मलीन दण्डी स्वामी श्री नारायणदेव तीर्थ महाराज जी की 25 वीं पुण्यतिथि 11 अक्टूबर बुधवार को स्वामी श्री विष्णुतीर्थ मंगल भवन में स्वामी सुरेशानंद जी महाराज (नारायण कुटी सन्यास आश्रम) एवं वानप्रस्थी मुकुल मुनिजी महाराज (वाग्ययोग चेतना पीठम बागली)के सानिध्य में मनाई गयी। आज प्रात: 7.30 बजे वैदिक मंत्रोच्चार के साथ स्वामीजी की पादुका का अभिषेक एवं प्रात: 8.30 बजे श्रीराम रामायण महिला मण्डल द्वारा सुंदरकाण्ड का पाठ एवं भजनों के साथ प्रात: 11 बजे सभी साधकों द्वारा पादुका पूजन किया गया। समाजसेवी बालकृष्ण भूतड़ा, नारायण कुटी के साधक हजारीलाल जैन एवं माताजी श्रीमती चंद्रकला दास का शाल श्रीफल एवं पुष्पमाला से सम्मान स्वामी सुरेशानंदएवं मुकुल मुनिजी महाराज ने किया। आशीर्वाद वचन में स्वामी जी ने अपने आशीर्वचन में कहा कि इस लोक कल्याण शक्तिपात साधन परम्परा में दीक्षित सभी साधक सफलतापूर्वक भगवत भजन करते हुए अपने देव दुर्लभ मानव जीवन को सार्थक सफल एवं सउद्देश्य बनाने के लिये गुरू महाराज के बताए मार्ग एवं साधना मार्ग की ओर बढने का संदेश दिया। तत्पश्चात महाआरती एवं विशाल भंडारे का आयोजन हुआ।