व्यापार समाचार

वैश्विक माल परिवहन ढ़ांचे पर सम्मेलन जनवरी में

नयी दिल्ली 27 नवंबर (ब्यूरो ) देश में माल परिवहन का वैश्विक स्तर का बुनियादी ढ़ांचा विकसित करने और इसके लिये प्रौद्योगिकी तथा निवेश की संभावनायें तलाशने अगले वर्ष जनवरी में यहां एक अंतरराष्ट्रीय ‘लॅाजिक्स इंडिया 2019¹ आयोजित किया जाएगा जिसमें तकरीबन 20 देशां की हिस्सेदारी होगी।
केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने एक कार्यक्रम में इस सम्मेलन के लिए प्रतीक चिह्न और पुस्तिका का लोर्कापण किया। सम्मेलन का आयोजन भारतीय निर्यातक महासंघ (फियो) करेगा। सम्मेलन का आयोजन 31 जनवरी से दो फरवरी 2019 तक होगा।

श्री प्रभु ने इस अवसर पर कहा कि भारत विश्व की सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था है और पूरे विश्व से जुड़ने के लिये भारत को वैश्विक स्तर का माल परिवहन ढ़ांचा चाहिए। इससे भारत का अंतरराष्ट्रीय व्यापार सरल होगा और उत्पादां को प्रतिस्पर्धी बनाने में मदद मिलेगी।
फियो के अध्यक्ष गणेश कुमार गुप्ता ने कहा कि 20 से अधिक देशां ने सम्मेलन में अपने प्रतिनिधिमंडल भेजने की सहमति जताई दी। भाग लेने वाले प्रतिनिधिमंडलां की संख्या 100 से अधिक हो सकती है। उन्हांने कहा कि वैश्विक माल परिवहन ढ़ांचा विकसित करने से अंतरराष्ट्रीय बाजार में भारतीय उत्पादां की मांग में इजाफा होगा और घरेलू स्तर पर विनिर्माण उद्योग को बढ़ावा मिलेगा तथा रोजगार के अवसर सृजन होगा।

उन्हांने कहा कि तीन दिन तक चलने वाले इस सम्मेलन में बुनियादी ढ़ांचे के विकास, भंडारण, प्रौद्योगिकी और आईटी और कौशल विकास पर जोर दिया जाएगा।