व्यापार

तीन दिन की गिरावट से उबरा शेयर बाजार

मुंबई 26 नवंबर (ब्यूरो) वैश्विक स्तर से मिले सकारात्मक संकेतां के बीच एफएमसीजी, बैंकिंग और ऑटो समूहां की कंपनियां में लिवाली से घरेलू शेयर बाजार पिछले तीन कारोबारी दिवसां की गिरावट से उबरने में कामयाब रहा। बीएसई का 30 शेयरां वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 373-06 अंक चढ़कर 35,354-08 अंक पर और नेशनल स्टॅाक एक्सचेंज का निफ्टी 101-85 अंक की बढ़त में 10,628-60 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई के 20 समूहां में एफएमसीजी में दो प्रतिशत से अधिक की तेजी रही। बैंकिंग और ऑटो समूहां के सूचकांक भी एक फीसदी से ज्यादा चढ़े। धातु और स्वास्थ्य समूहां की कंपनियां ने बाजार पर दबाव बनाया। सेंसेक्स की कंपनियां में हीरो मोटोकॅार्प ने पाँच प्रतिशत और हिंदुस्तान यूनिलिवर ने चार प्रतिशत से अधिक का मुनाफा कमाया।
एशियाई बाजारां से मिले सकारात्मक संकेत के दम पर सेंसेक्स 137-07 अंक चढ़कर 35,118-09 अंक पर खुला। शुरुआत में तेजी कुछ कम रही। दोपहर के समय कुछ देर के लिए यह लाल निशान में भी उतरा और 34,896-07 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़क गया। इसके बाद बाजार में लिवाली हावी रही। सेंसेक्स लगातार चढ़ता हुआ 35,397-24 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूने के बाद अंततः गत दिवस के मुकाबले 1-07 प्रतिशत यानी 373-06 अंक ऊपर 35,354-08 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 21 कंपनियाँ हरे और शेष नौ लाल निशान में बंद हुई।

निफ्टी का ग्राफ भी लगभग सेंसेक्स जैसा ही रहा। यह 41-55 अंक की बढ़त के साथ 10,568-30 अंक पर खुला। दोपहर के समय 10,489-75 अंक के दिवस के निचले स्तर को छूने के बाद यह भी पूरे दिन हरे निशान में बना रहा। कारोबार की समाप्ति से पहले 10,637-80 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0-97 फीसदी यानी 101-85 अंक चढ़कर 10,628-60 अंक पर रहा। निफ्टी की 50 में 34 कंपनियाँ बढ़त में और शेष 16 गिरावट में रहीं।
बीएसई में कुल 2,780 कंपनियां के शेयरां में कारोबार हुआ। इनमें 1,522 के शेयर हरे और 1,063 के लाल निशान में रहे जबकि शेष 195 के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंततः अपरिवर्तित रहे। मझौली और छोटी कंपनियां के प्रति निवेशकां का विश्वास कमजोर रहा। बीएसई का मिडकैप 0-06 फीसदी की तेजी में 14,889-89 अंक पर बंद हुआ जबकि स्मॅालकैप 0-15 फीसदी की गिरावट में 14,329-08 अंक पर रहा।