व्यापार

टाटा कैपिटल और कैपिटल फ्लोट के बीच समझौता

मुम्बई 05 अक्टूबर (एजेंसी ) गैर बैंकिगं फाइनेंस कंपनी टाटा कैपिटल ने छोटे कारोबारों को वित्तीय सहायता मुहैया कराने के लिए कैपिटल फ्लोट के साथ समझौता किया है।
यह समझौता देश के लघु एवं मध्यम उद्योगों (एसएमई) को कार्यशील पूंजी मुहैया कराने के लिए किया गया है। टाटा कैपिटल इस समझौते के तहत कैपिटल फ्लोट के डिजिटल प्लेटफार्म पर संयुक्त रूप से रिण उपलब्ध करायेगी। दोनों कंपनियां एसएमई को ‘पे लैटर’ की सुविधा देंगी।

‘पे लैटर’ के तहत कर्जदारों को एक साल की अवधि के लिए 50 लाख रुपये तक का रिण उपलब्ध होगा। इसकी अनोखी बात यह है कि कर्जदार अगर समय समय पर रिण का भुगतान करते रहते हैं तो वे अनुमोदित सीमा के भीतर कई बार रिण निकासी कर सकते हैं।

समझौते के घोषणा के अवसर पर टाटा कैपिटल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ( वाणिज्यिक वित्त) सारोश अमारिया ने कहा कि एसएमई क्षेत्र देश की अर्थव्यवस्था के ताने बाने का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। सकल घरेलू उत्पाद में इनकी हिस्सेदारी करीब 38 फीसदी है। हमारी कंपनी छोटे कारोबारियों तथा उद्यमियों को फंड उपलब्ध कराती रही है। कैपिटल फ्लोट के साथ हमारी साझेदारी हमारी बाजार स्थिति को और मजबूत करेगी।