देश विदेश

करतारपुर साहिब गलियारे के आधारशिला समारोह में भाग लेने पहुंचे सिद्धू, पुरी और हरसिमरत

लाहौर, 27 नवंबर (ब्यूरो ) पाकिस्तान में करतारपुर गलियारे की आधारशिला समारोह में हिस्सा लेने के लिए पंजाब के नगर विकास मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की अगुवाई में भारतीय दल मंगलवार को यहां पहुंचा।
भारत में रहने वाले सिख श्रद्धालुओं को पाकिस्तान के करतारपुर साहिब के दर्शन करने की सुविधा प्रदान करने के लिए निर्मित किए जाने वाले गलियारे की आधारशिला 28 नवंबर को रखी जानी है। भारत सरकार ने पिछले सप्ताह ही इस गलियारे के निर्माण को मंजूरी दी है।

क्रिकेटर से राजनेता बने श्री सिद्धू की अगुवाई में करतारपुर साहिब पहुंचने वाले भारतीय प्रतिनिधिमंडल में श्री सिद्धू के अलावा केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल और शहरी आवास मंत्री हरदीप सिंह पुरी शामिल हैं। भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने वाघा सीमा से पाकिस्तान में प्रवेश किया जहां उनकी अगवानी पंजाब रेंजर के अधिकारियां ने की।
वाघा सीमा पार करने के मौके पर पत्रकारां से बातचीत में श्री सिद्धू ने समारो के लिए आमंत्रित करने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को धन्यवाद दिया। उन्हांने कहा, ” तीन महीने पहले इमरान खान ने जिस बीज को बोया था वह अब पेड़ बन चुका है और मैं इसके लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और अधिकारियां को धन्यवाद देता हूं।“
श्री सिद्धू ने कहा,” करतापुर गलियारा शांति का मार्ग प्रशस्त करेगा और इसके माध्यम से जो खुशी 60 वर्षों में नहीं मिली, वह छह माह में आ सकती है। इस गलियारे की वजह से दोनां देशां के बीच की सीमाएं खुल जायेंगी।“

उन्हांने कहा कि वह प्यार और शांति का संदेश लेकर आये हैं, ” दोनां देशां के बीच बड़ी संख्या में कलाकार और क्रिकेटर हैं जो एक-दूसरे को प्यार करते हैं और भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैच खेले जाने की जरूरत है।¹¹
जियो न्यूज के अनुसार पूर्व क्रिकेटर ने कहा, ” धर्म को राजनीति के नजरिये से नहीं देखा जाना चाहिए। वह बचपन से ही इमरान खान के फैन रहे हैं।¹¹
करतारपुर गलियारे की आधारशिला बुधवार को इमरान खान रखेंगे। इस गलियारे के जरिये नारोवाल जिले के करतारपुर में गुरद्वारा साहिब को भारत में पंजाब के गुरदासपुर जिले स्थित डेरा बाबा नानक से जोड़ा जायेगा। इस गलियारे के बन जाने से सिख श्रद्धालु बिना वीजा के करतारपुर साहिब के दर्शन के लिए जा सकेंगे।