देश

ईएसआई के डाक्टरों ने प्रधानमंत्री को सौंपे इस्तीफे

नयी दिल्ली  कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) के चिकित्सकों ने अस्पताल प्रशासन पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए आज अपने इस्तीफे प्रधानमंत्री कार्यालय को सौंप दिये।

ईएसआईसी के चिकित्सा अधिकारी संघ के कोषाध्यक्ष डा. रतन प्रकाश धीर ने आज यहां बताया कि निगम का अस्पताल प्रशासन मनमाने तरीकों से काम कर रहा है और चिकित्सकों को उनके वाजिब हकों से वंचित कर रहा है। चिकित्सकों को बिना जरुरत के स्थानांतरित किया जा रहा है जिससे रोगियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि ईएसआईसी में सातवां वेतन आयोग लागू हो चुका है लेकिन चिकित्सकों को उसके अनुरूप भत्तों का भुगतान नहीं किया जा रहा है।

डा. धीर ने बताया कि चिकित्सा अधिकारी संघ ने प्रधानमंत्री और श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष कुमार गंगवार को ज्ञापन दिये हैं। इनके साथ ही ईएसआई के 150 से अधिक चिकित्सकों ने अपने इस्तीफे भी प्रधानमंत्री और केंद्रीय मंत्री को भेज दिये हैं।

ईएसआईसी के देशभर में चिकित्सा संस्थान हैं जिनमें निजी क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। दिल्ली क्षेत्र में इन संस्थानों से लगभग 50 लाख लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं दी जाती है।