देश समाचार

अयोध्या मुद्दे पर उच्चतम न्यायालय का निर्णय स्वीकार : एआईएमयूएफ

नयी दिल्ली, 25 नवंबर (ब्यूरो) ऑल इंडिया मुस्लिम यूनिटी फ्रंट (एआईएमयूएफ) ने कहा है कि अयोध्या मसले पर उच्चतम न्यायालय का निर्णय समय पर आना चाहिए लेकिन इस मुद्दे पर न्यायालय जो भी फैसला देगा मुस्लिम समुदाय के सभी वर्गों को वह मान्य होगा।

एआईएमयूएफ के अध्यक्ष मोहम्मद यूनुस ने रविवार को यहां जारी एक बयान में कहा कि इस मुद्दे पर उन्हांने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक ज्ञापन सौंपा है और कहा है कि इस मसले पर समयबद्ध तरीके से निर्णय आना चाहिए और उच्चतम न्यायालय राम मंदिर निर्माण को लेकर जो भी फैसला देगा मुस्लिम समुदाय के सभी वर्गों को वह स्वीकार होगा।
राम मंदिर मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी से संबद्ध रैलियां पर उन्हांने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ तथा भाजपा नेता शीर्ष न्यायालय पर दबाद डाल रहे हैं लेकिन न्यायालय ने इस मामले में जल्द सुनवाई करने की उनकी बात मानने से इनकार कर दिया है। उन्हांने कहा कि भाजपा तथा आरएसएस उच्चतम न्यायालय के खिलाफ बोल रहे हैं और रैलियां तथा बैठकें आयोजित कर रहे हैं।

एआईएमयूएफ नेता ने कहा कि उत्तर प्रदेश तथा केंद्र में भाजपा की सरकार है तो फिर उसके लोग किसके खिलाफ आंदोलन कर रहे है और किससे राम मंदिर निर्माण की मांग की जा रही है। उन्हें राम मंदिर बनाना चाहिए। सरकार उनकी है तो फिर भाजपा कैसे कह रही है कि मुसलमान मंदिर नहीं बनाने दे रहे हैं।